Sunday, July 3, 2022

रायपुर/ 1/2 दर्जन शराब दुकानों में तीन करोड़ 87 लाख रुपए की हेराफेरी, स्टॉक पंजीयन के मिलान से हुआ खुलासा

छत्तीसगढ़ डाइजेस्ट न्यूज़ डेस्क :

अफसरों की लापरवाही से शराब दुकानों में तीन करोड़ 87 लाख रुपए की हेराफेरी

जिले की आधा दर्जन शराब दुकानों में तीन करोड़ 87 लाख रुपए की हेराफेरी का मामला सामने आया है। जब स्टॉक पंजी का मिलान किया गया तो यह खुलासा हुआ।

रायपुर. जिले की आधा दर्जन शराब दुकानों (Liquor Shops) में तीन करोड़ 87 लाख रुपए की हेराफेरी का मामला सामने आया है। जब स्टॉक पंजी का मिलान किया गया तो यह खुलासा हुआ। इधर, आबकारी अधिकारी ठेका कंपनी से राशि वसूली की बात करके मामले को टालने में लगे हुए हैं। सरकारी शराब दुकान (Government Liquor Shops ) में तीन करोड़ 87 लाख रुपए के गबन का प्रतिवेदन दिया गया था।

कर्मचारियों से इस मामले में पूछताछ की जा रही है। जिले में सरकारी शराब दुकान से रुपए के गबन का यह सबसे बड़ा मामला है। जानकारी के मुताबिक पंडरी, हीरापुर समेत आउटरों की कुछ दुकानों में करोड़ों रुपए की हेराफेरी हुई है। जिला समन्वयक ने जब भौतिक सत्यापन किया तो स्टॉक पंजी में करोड़ों रुपए की हेराफेरी का मामला सामने आया। समन्वयक द्वारा शराब दुकानें माइनस की रिपोर्ट आबकारी विभाग को सौंपी गई। हालांकि अब तक किसी पर भी एफआईआर दर्ज नहीं कराई गई है।

अफसरों की लापरवाही से करोड़ों का नुकसान
जिले के कई शराब दुकानों में लाखों रुपए की हेराफेरी का मामला आबकारी विभाग (Chhattisagrh Excise Department) के अफसरों से छुपा नहीं है। इसके बावजूद विभाग के अफसर प्रति माह किसी भी शराब दुकान का सत्यापन सही ढंग से नहीं करते थे। जिसका खामियाजा शासन को आज करोड़ों रुपए के नुकसान के साथ भुगतना पड़ा।

रायपुर आबकारी विभाग के उपायुक्त अरविंद पटले ने कहा, अभी रिकवरी नोटिस जारी कर कंपनी को जल्द चुकाने के निर्देश दिए गए हैं। प्लेसमेंट कंपनी पर कार्रवाई के लिए शासन के निर्देश का इंतजार है।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,376FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles