Thursday, December 8, 2022

कोरोना वायरस : ब्राजील के राष्ट्रपति को इकॉनमी की ज्यादा चिंता, बोले-‘कुछ लोग तो मरेंगे राज्यों के गवर्नर के बीच ठनी

कोरोना वायरस : ब्राजील के राष्ट्रपति को इकॉनमी की ज्यादा चिंता, बोले-‘कुछ लोग तो मरेंगे
राज्यों के गवर्नर के बीच ठनी

रियो डि जेनेरियो
कोरोना वायरस के हमले के बीच ब्राजील में राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो और स्टेट्स के गवर्नर्स के बीच की रार साफ नजर आने लगी है। यहां तक कि इसमें लोगों का नुकसान होने के आसार दिखने लगे हैं। दरअसल, राष्ट्रपति ने दो टूक यह कह दिया है कि कुछ लोग तो मरेंगे और इसके लिए वह इकॉनमी को बंद नहीं कर सकते है। ब्राजील में अब तक 3,477 लोग कोरोना वायरस के लिए पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि 93 की मौत हो चुकी है।

इकॉनमी ज्यादा जरूरी
जायर ने साओ पाओलो में कोरोना वायरस के कारण हुई मौतों को लेकर राज्य के गवर्नर पर ही शक जताया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मरने वालों की संख्या बढ़ाकर बताई गई है। हालांकि, उन्होंने इस आरोप का कोई सबूत नहीं दिया। बोल्सोनारो और गवर्नर्स के बीच में काफी समय से झगड़ा चल रहा है। राष्ट्रपति ने कह दिया था कि कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग करने से ज्यादा जरूरी इकॉनमी को बचाना है।

बंद नहीं कर सकता फैक्ट्री
दरअसल, हेल्थ एक्सपर्ट्स की सलाह पर देश के 26 गवर्नर्स ने गैर-जरूरी कमर्शल काम बंद कर दिए हैं ताकि कोरोना को फैलने से रोका जाएगा। इस पर बोल्सोनारो ने बेहद रूखा जवाब देते हुए कहा, ‘मैं माफी चाहूंगा, कुछ लोग मरेंगे, वे मरेंगे, यही जीवन है। आप ट्रैफिक डेथ्स की वजह से कार फैक्ट्री बंद नहीं कर सकते।’

मौत के आंकड़े पर शक
बोल्सोनारो ने कहा कि ब्राजील के इकनॉमिक पावरहाउस साओ पाओलो में मौत का आंकड़ा कुछ ज्यादा ही लग रहा है। यहां 1,223 कोरोना पॉजिटिव केस आए हैं और 68 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने कहा, ‘हमें यह देखना चाहिए कि यहां क्या हो रहा है, यह राजनीतिक हितों के लिए किया गया नंबर गेम नहीं हो सकता।’

विरोध का सामना
इस आपदा से जिस तरह से बोल्सोनारो निपट रहे हैं, उन्हें लोगों की आलोचना और विरोध का शिकार होना पड़ा है। लोगों ने अपने घरों की खिड़कियों के बाहर पॉट और पैन लटका रखे हैं। वहीं, बोल्सोनारो के समर्थक लॉकडाउन का विरोध करते हुए हॉर्न बजाकर गाड़ियों के काफिले निकाल रहे हैं।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,604FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles