Monday, August 8, 2022

भाजपा और कांग्रेस सरकार सिर्फ चंदा वसूली में व्यस्त , कौन कसेगा लगाम – आप

प्रदेश में कारखानों में सुरक्षा ताक पर और कामगारों की जाने जा रही है …

कोमल हुपेंडी, छ.ग. प्रदेश अध्यक्ष, आप।

कोमल हुपेंडी

रायपुर : आम आदमी पार्टी ने प्रदेश के कामगारों की ओर से आवाज बुलंद कर शासन प्रशासन से मांग की है कि उद्योगों में हुई दुर्घटनाओं में लापरवाही सामने आई है.
उद्योगों में सुरक्षा के नाम पर कामगारों में असंतोष निरंतर बढ़ता ही जा रहा है. इसका मुख्य कारण है उद्योगों द्वारा कामगारों के लिए जरूरी सुरक्षा उपाय नहीं किए जा रहे है.

पूरे प्रदेश में कमोबेश यही हालत है राजधानी की ही बात करते है तो उरला, सिलतरा, खमतराई क्षेत्र में संचालित कई उद्योगों में कार्यस्थल पर कामगारों के लिए जरूरी सुरक्षा उपाय नहीं किए जा रहे हैं. इससे कामगारों की जानें जा रही है. यह बात उद्योगों में हुई दुर्घटनाओं में सामने आई है. थानों में दर्ज कराई गई रिपोर्ट में जिक्र किया गया है कि सुरक्षा उपाय किए जाते तो कामगारों की जान बच सकती थी.

पिछले एक माह में उरला, सिलतरा, खमतराई क्षेत्र में चल रहे उद्योगों में कई दुर्घटनाओं की रिपोर्ट दर्ज हुई है. दुर्घटनाओं में फैक्ट्री में कार्यरत कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हुए और उपचार के दौरान अस्पतालों में या अस्पताल पहुंचने से पहले इन कामगारों की मौत हुई है. उद्योगों के हुई दुर्घटनाओं को लेकर हुए कई एफआईआर में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि सुरक्षा उपायों की अनदेखी के चलते दुर्घटनाएं हुई. ज्यादातर मामलों में कंपनी प्रबंधन या कंपनी के मैनेजर के खिलाफ धारा 304 ए के तहत् मामला दर्ज किया गया है लेकिन फिर वही भ्रष्टाचार के चलते सब रफा दफा हो जाता है.

हमारे संज्ञान में एक केस आया है जिसमे – खमतराई थाना क्षेत्र के गोल्ड स्टार स्टील प्राइवेट लिमिटेड भनपुरी में 19 जनवरी 2022 को ग्राइंडर मशीन चलाते समय पत्थर का व्हील टूट गया. पत्थर के टुकड़े छिटक कर लगने से कर्मचारी तेलन वर्मा (32 वर्ष) गंभीर रूप से घायल हो गया. उसे जेडी अस्पताल बीरगांव ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान मौत हो गई. मामले में गोल्ड स्टार स्टील प्राइवेट लिमिटेड प्रबंधक के खिलाफ धारा 287, 304ए, 34 के तहत् 22 जून को मामला दर्ज किया गया है. रिपोर्ट में सुरक्षा नियमों का पालन न कर मशीनरी कार्य में उपेक्षा व लापरवाही की बात कही गई है.

इसी प्रकार दूसरी घटना के तहत 15 जून 2022 को उरला थाना क्षेत्र के ईश्वर टीएमटी कंपनी में कार्य करते पवन चौहान (29 वर्ष) ऊंचाई से गिर गया. उसे देवेन्द्र नगर के नारायणा अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया. वहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. मामले में धारा 287, 304 ए के तहत् • मामला दर्ज किया गया है. यह भी मामला सीधी तौर पर सुरक्षा से जुड़ा है.

इसी प्रकार 20-25 फीट ऊंचाई से गिरकर मौत – 5-6 जून 2022 की रात 3.15 बजे श्री बजरंग पावर एंड इस्पात लिमिटेड उरला में कंपनी के एस.एम.एस डिविजन के ओवरहेड क्रेन की मरम्मत करने 20-25 फीट की ऊंचाई पर चढ़ा कर्मचारी ललित कुमार सिंग (66 वर्ष) रिपेयरिंग करते समय अचानक नीचे गिर गया. वह गिरते ही बेहोश हो गया. तत्काल इलाज हेतु मेकाहारा ले जाया गया, जहां आपात चिकित्सा अधिकारी ने जांच कर कर्मचारी को मृत घोषित कर दिया गया. उरला पुलिस ने कंपनी प्रबंधन के खिलाफ धारा 304 ए के तहत अपराध कायम किया है.

सवाल यह उठता है कि क्या कामगारों की जान इतनी सस्ती है कि लापरवाही से उद्योगों में सुरक्षा पर ध्यान न देकर सिर्फ संचालन पर ही ध्यान है या दुर्घटना होने दीजिए कोई फर्क नहीं पड़ता शासन प्रशासन तो भ्रष्ट है सब मैनेज हो जायेगा.

कोमल हुपेंडी ने नाराजी जाहिर करते हुए कहा कि लगभग पूरे प्रदेश में न जाने कामगारों के साथ कितनी ही इस तरह की दुर्घटनाएं होती है और कई तो थाने तक भी नही पहुंचती और बहुत सी दुर्घटनाएं ठेका मजदूरों के साथ होती है जिनको सिर्फ रफा दफा कर दिया जाता है.

कब तक शासन प्रशासन कामगारों की कार्यक्षेत्र में सुरक्षा को नजरंदाज करेगा अब आम आदमी पार्टी ऐसा नही होने देगी और कामगारों के साथ उनकी सुरक्षा की लड़ाई में पूरी तरह उनका साथ देगी. सभी कामगार संगठनों के कामगारों को आश्वस्त करती है कि अब आम आदमी पार्टी उनके साथ है.

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,429FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles