Thursday, December 8, 2022

Coronavirus: डॉक्टरों और नर्सों को मकान मालिक घर से रहे निकाल, शिकायत मिलने पर अमित शाह ने लिया ये एक्शन

Coronavirus के मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टरों और नर्सों को मकान मालिक घर से निकाल रहे हैं। इसको लेकर एम्स के डॉक्टरों ने गृहमंत्री अमित शाह से शिकायत की है। जिसपर अमित शाह ने एक्शन लिया है।


नई दिल्ली, कोरोना वायरस (Coronavirus) के फैलते संक्रमण को रोकने के लिए देश के डॉक्टर्स, नर्सेज सभी युद्धस्तर पर काम कर रहे हैं। ऐसे भी कई स्वास्थ्यकर्मी हैं, जो कई दिनों से अपने घर तक नहीं गए हैं, ताकि देश के अन्य नागरिक सुरक्षित रहें। कोरोना से संक्रमित व्यक्ति स्वस्थ हो सकें। इन सब के बीच एक खबर सामने आई है कि किराए के मकाम में रह रहे मेडिकल कर्मचारियों और डॉक्‍टरों को उनके मकान मालिक अपने घर से निकाल रहे हैं। ये कोई अफवाह नहीं है, बल्कि सच्चाई है।

एम्‍स के डॉक्‍टरों ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

दरअसल, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (All India Institute of Medical Sciences यानी AIIMS) के रेजीडेंट डॉक्‍टर्स एसोशिएशन (Resident Doctors Association यानी RDA) ने देश के गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को एक चिट्ठी लिखी है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि मकान मालिक मेडिकल कर्मचारियों और डॉक्‍टरों को अपने घरों से निकाल रहे हैं। इसके साथ ही, एसोसिएशन ने मेडिकल कर्मचारियों और डॉक्‍टरों बेदखल करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। साथ ही, अनुरोध किया है कि इन मेडिकल कर्मचारियों और डॉक्टरों को आने-जाने के लिए परिवहन सुविधाओं की व्यवस्था करें।

 डॉक्टरों के अनुरोध पर एक्शन में अमित शाह 

गृहमंत्री ने डॉक्टरों के इस अनुरोध का संज्ञान लिया है और दिल्ली के पुलिस कमिश्वर को इस बाबत निर्देश जारी किए हैं। शाह ने एक्शन लेते हुए पुलिस कमिश्नर को निर्देश दिए हैं कि उन मकान मालिकों पर सख्त कार्रवाई की जाए, जो डॉक्टरों, नर्सों और कोरोना का इलाज करा रहे मरीजों को किराए से घरों से बाहर निकाल रहे हैं।

मेडिकल स्टाफ को किराए के मकान से निकाल रहे मकान मालिक

रेजीडेंट डॉक्‍टर्स एसोशिएशन ने गृहमंत्री को लिखी अपनी चिट्ठी ने कहा है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जो भी डॉक्टर्स, नर्सें और स्वास्थ्य कर्मचारी दिन- रात लगे हुए हैं, उनके मकान मालिक महामारी के खौफ से उन्हें किराए के मकान से निकाल रहे हैं। चिट्ठी में बताया कि कई डॉक्टरों को तो उनके सामान के साथ मकान मालिक ने घरों से बाहर निकाल दिया है। जिसकी वजह से वो अपनी पूरी गृहस्थी के साथ सड़क पर आ गए हैं।

मकान मालिक की हरकतों की निंदा

एसोसिएशन ने बताया कि स्वास्थ्यकर्मियों के साथ ऐसी शिकायतें कई जगहों से आ रही है। उन्होंने मकान मालिकों के ऐसे व्यवस्था की निंदा करते हुए कहा कि इस तरह की हरकतों की वजह से हम कोरोना जैसी महामारी से लड़ने की घड़ी में खुद को असहाय महसूस कर रहे हैं। साथ ही, एसोसिएशन ने लिखा कि इस वक्त देश में लॉकडाउन हो रखा है, इस वजह से डॉक्टरों, नर्सों, मेडिकल स्टॉफ के लोगों को आने-जाने में मुश्किल हो रही है। इसलिए उनके परिवहन की सुविधा के बारे में भी सोचा जाए

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,601FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles