पाकिस्तान पहुंचे ईरान के राष्ट्रपति रईसी तीन दिवसी दौरे पर , कई समझौते होने की उम्मीद

इस्लामाबाद:  ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी सोमवार को तीन दिवसीय आधिकारिक दौरे पर पाकिस्तान पहुंचे. इब्राहिम रईसी की यात्रा ऐसे समय में हो रही है, जब दो महीने पहले दोनों पड़ोसी देशों ने एक दूसरे के इलाकों में कथित आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले किए थे. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर की गई एक पोस्ट में कहा, ”इस्लामाबाद हवाई अड्डे पर ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का गर्मजोशी से स्वागत किया गया तथा आवास और निर्माण मंत्रालय के मंत्री मियां रियाज हुसैन पीरजादा और ईरान में पाकिस्तान के राजदूत मुदस्सिर टीपू ने उनकी अगवानी की.

राष्ट्रपति रईसी का पाकिस्तान में एक व्यापक कार्यक्रम है. इस दौरान वह राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी, प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, सीनेट अध्यक्ष यूसुफ रजा गिलानी और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष अयाज सादिक से मिलेंगे. विदेश मंत्रालय ने बताया कि वह लाहौर और कराची जाकर वहां के प्रशासन से भी मुलाकात करेंगे. पाकिस्तान रेडियो के मुताबिक रईसी आज प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ से मुलाकात करेंगे, जहां दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता भी होगी.
खबरों में बताया गया, ”प्रधानमंत्री आवास पहुंचने पर उन्हें सलामी गारद पेश किया जाएगा. इसमें कहा गया, ”पृथ्वी दिवस के मौके पर ईरानी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री शहबाज प्रधानमंत्री आवास में पौधा लगाएंगे और वे विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग के लिए दोनों देशों के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेंगे.”पाकिस्तान रेडियो के मुताबिक, ”प्रधानमंत्री शरीफ और राष्ट्रपति रईसी इस्लामाबाद में एक राजमार्ग का नाम ईरान एवेन्यू रखे जाने से संबंधित एक समारोह में हिस्सा लेंगे और वहां से वे संवाददाताओं से भी बात करेंगे. प्रधानमंत्री ईरानी राष्ट्रपति और उनके प्रतिनिधिमंडल के लिए दोपहर के भोज का भी आयोजन करेंगे.
विदेश मंत्रालय द्वारा जारी किये गये एक बयान के मुताबिक, ”दोनों नेता पाकिस्तान-ईरान संबंधों को और मजबूत करने, व्यापार, ऊर्जा, कृषि, लोगों के बीच संपर्क को बढ़ाने सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ाने के मुद्दों पर चर्चा करेंगे. दोनों नेताओं की वार्ता क्षेत्रीय और वैश्विक विकास एवं आतंकवाद के खतरे से निपटने के लिए द्विपक्षीय सहयोग पर केंद्रित होगी.विदेश विभाग के मुताबिक, पाकिस्तान और ईरान के बीच इतिहास, संस्कृति और धर्म पर आधारित मजबूत द्विपक्षीय संबंध हैं और राष्टट्रपति रईसी की यह यात्रा पाकिस्तान-ईरान संबंधों को और मजबूत करने का एक महत्वपूर्ण अवसर प्रदान करेगी.

Exit mobile version