Monday, September 26, 2022

जलेसं का राष्ट्रीय सम्मेलन 23 से जयपुर में, छत्तीसगढ़ से भी भाग लेंगे कई बुद्धिजीवी

रायपुर। जनवादी लेखक संघ का 10वां राष्ट्रीय सम्मेलन 23 से 25 सितम्बर तक जयपुर में होने जा रहा है। इस सम्मेलन में छत्तीसगढ़ से भी कई लेखक, आलोचक, कवि और बुद्धिजीवी भाग लेंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन के साथ ही सम्मेलन में मनुवादी-फासीवादी हमलों के खिलाफ कलाकार थीम पर वैचारिक बहस-मुबाहसे के साथ ही संगठन की गतिविधियों पर तथा आज के सांप्रदायिक-फासीवादी माहौल में धर्मनिरपेक्षता और आम जनता के जनवादी अधिकारों की रक्षा के संघर्ष में संस्कृतिकर्मियों और बुद्धिजीवियों की महती भूमिका और इस उद्देश्य के लिए उन्हें एकजुट करने की जरूरत पर भी चर्चा होगी।

यह जानकारी छत्तीसगढ़ जनवादी लेखक संघ के अध्यक्ष कपूर वासनिक, उपाध्यक्ष परदेशीराम वर्मा और महासचिव नासिर अहमद सिकंदर ने एक प्रेस विज्ञप्ति के जरिये मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि जयपुर के जवाहर कला केंद्र में आयोजित इस 10वें राष्ट्रीय सम्मेलन में पूरे देश से 500 से अधिक साहित्यकार और साहित्य प्रेमी हिस्सा लेंगे। छत्तीसगढ़ से इस सम्मेलन में 20 से अधिक प्रतिनिधि भागीदारी करेंगे, जिसमें प्रसिद्ध कवि विजय सिंह, शायर मुमताज, रंगकर्मी अशोक बम्बार्डे आदि शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि जलेसं के इस सम्मेलन का उदघाटन प्रसिद्ध पत्रकार पी. साईनाथ करेंगे, जबकि अध्यक्षता असगर वज़ाहत, मुरली मनोहर सिंह और जीवन सिंह करेंगे। अपने सांप्रदायिकता विरोधी लेखन के लिए चर्चित राम पुनियानी सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे। लेखकों-संस्कृतिकर्मियों के इस तीन दिनी समागम को चंचल चौहान, आनंद कुमार, नंदिता नारायण, रतनलाल, बेंजवाड़ा विल्सन जैसे कई बुद्धिजीवी संबोधित करेंगे।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में इस समय दुर्ग, बालोद, धमतरी, कवर्धा, भाटापारा, चांपा-जांजगीर, बिलासपुर, बेमेतरा, कांकेर, राजनांदगांव सहित कई जिलों में जनवादी लेखक संघ की सक्रिय इकाईयां हैं। परदेशीराम वर्मा ने बताया कि जलेसं का छत्तीसगढ़ राज्य सम्मेलन दिसंबर में भिलाई में आयोजित किया जाएगा।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,498FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles