Sunday, August 14, 2022

शिक्षा सत्र 2022-23 में विज्ञान एवं वाणिज्य शिक्षण संस्था में प्रवेश के संबंध में

सूरजपुर

वर्ष 2022-23 में कक्षा 12वीं के बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित होने के उपरांत प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्र (टी.एस.पी. एरिया) में निवासरत अनुसूचित जाति, जनजाति के ऐसे छात्र-छात्राओं के विज्ञान एवं वाणिज्य शिक्षण केन्द्र कन्या जिला-दुर्ग तथा बालक जिला-जगदलपुर (बस्तर) में प्रवेश दिलाया जाना है। प्रवेश हेतु निर्धारित पात्रता निम्नानुसार है-
        प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्र में निवासरत कक्षा 12वी उत्तीर्ण अनुसूचित जनजाति एवं अनसूचित जाति वर्ग के विद्यार्थी जिन्होंने 12वीं बोर्ड परीक्षा न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण की हो एवं विज्ञान एवं वाणिज्य विषय के साथ आगामी पढ़ाई के इच्छुक हो।  ऐसे इच्छुक विद्यार्थियों को विभाग के साथ अनुबंध पत्र हस्ताक्षर करना होगा कि विज्ञान एवं वाणिज्य विषयों के स्नातक, स्नातकोत्तर तथा बी.एड. की पढ़ाई के पश्चात् वे प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्रों में शिक्षक के रूप में अपनी सेवाएं देने के लिए सहम होंगे। कडिका एक व दो की पूर्ति करने वाले विद्यार्थियों में से बालक एवं बालिकाओं को क्रमशः बस्तर एवं दुर्ग जिला मुख्यालय पर संचालित विज्ञान वाणिज्य केन्द्र पर अस्थायी प्रवेश दिया जाएगा। अस्थायी रूप से प्रवेशित समस्त विद्यार्थियों को स्वयं की रूचि से संबंधित जिला मुख्यालय अथवा आस-पास संचालित शासकीय अथवा मान्तया प्राप्त अशासकीय महाविद्यालय, विश्वविद्यालय में संचालित विज्ञान, वाणिज्य विषय की स्नातक तथा स्नातकोत्तर कक्षाओं में 15 दिवस के अंदर प्रवेश लेना अनिवार्य होगा। प्रवेश के दौरान सहयोग एवं मार्गदर्शन संस्था के प्रशासकीय अधिकारी, संबंधित सहायक आयुक्त द्वारा दिया जायेगा। नियमित शिक्षण संस्थान में प्रवेश के बाद विद्यार्थियों को विज्ञान एवं वाणिज्य विकास केन्द्र स्थायी प्रवेश दिया जायेगा। स्थाई प्रवेश पश्चात् विद्यार्थियों को योजना के तहत् दी जाने वाली अन्य सुविधाओं की पात्रता होगी। स्नातक स्तर पर एक वर्ष परीक्षा अनुत्तीर्ण विद्यार्थी को पुनः शासकीय व्यय पर 01 वर्ष के लिये प्रवेश की पात्रता होगी। पुनः अनुत्तीर्ण होने पर आगामी 01 वर्ष तक विद्यार्थी को स्वयं के व्यय पर अध्ययन करना होगा। किसी भी स्थिति में स्नातक पाठ्यक्रम हेतु अधिकतम 04 वर्ष तक छात्रवृति एवं अन्य सुविधाओं की पात्रता होगी। कक्षा 12वीं उत्तीर्ण अनुसूचित जाति, जनजाति की छात्राएं जिन्होंने 12वीं बोर्ड परीक्षा न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक से उत्तीर्ण की हो एवं विज्ञान और वाणिज्य विषय के साथ आगामी पढ़ाई के पश्चात् प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्रों में शिक्षक के रूप में अपनी सेवाएं देने के लिए सहमति देते है तो उन्हें विज्ञान विकास केन्द्र (कन्या) जिला मुख्यालय दुर्ग विज्ञान विकास केन्द्र (बालक) जिला मुख्यालय जगदलपुर में आवासीय सुविधा प्रदान कर वर्ष 2022-23 में जिला मुख्यालय अथवा आस-पास संचालित शासकीय अथवा मान्यता प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों में बी.एस. सी (गणित,विज्ञान,बी. काम प्रथम वर्ष) में प्रवेश ले सकते है, प्रवेश की प्रक्रिया प्रारंभ है। अतः वर्तमान शिक्षा सत्र में संस्था विज्ञान एवं वाणिज्य शिक्षण केन्द्र कन्या जिला दुर्ग एवं बालक जिला जगदलपुर में प्रवेश लेने हेतु पात्र विद्यार्थी अपना आवेदन पत्र कार्यालय सहायक आयुक्त, आदिवासी विकास, सूरजपुर में जमा कर सकते है।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,434FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles