Monday, September 26, 2022

वरिष्ठ साहित्यकार जगदीश देशमुख ने कहा- शिक्षकों के प्रति अभद्र टिप्पणी बंद हो

शिक्षाविद एवं वरिष्ठ साहित्यकार जगदीश देशमुख ने कहा है कि स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख शिक्षा सचिव डॉ. आलोक शुक्ला इतने अहंकारी हो गए हैं, वे अपने आपको सर्वगुण संपन्न और सर्वज्ञ मान बैठे हैं। शिक्षकों के लिए बार-बार अयोग्य और निकम्मा जैसे शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं यह अनुचित है। श्री देशमुख ने कहा कि दो दिन पहले वेबिनार के जरिए उन्होंने शिक्षकों को निकम्मा और अयोग्य जैसे शब्दों से कटाक्ष किया। ऐसी टिप्पणी किए जाने पर विराम लगाया जाए।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,498FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles