Sunday, August 14, 2022

सात साल में बना अंडरब्रिज पहली बारिश में बन गया 15 करोड़ का सरकारी झरना – आप

नेता फोटो, ED धरना और भेट मुलाकात में व्यस्त जनता की सुध कौन लेगा?

डेढ़ घंटे की वर्षा में राजधानी भी फिर जलमग्न, सफाई के नाम पर खाना पूर्ति, जिम्मेदार कौन?

उत्तम जायसवाल, छ.ग. प्रदेश सचिव ,आप.

उत्तम जायसवाल, छत्तीसगढ़ आप प्रदेश सचिव

रायपुर : आम आदमी पार्टी के प्रदेश सचिव उत्तम जायसवाल ने आज पहली झामझम बारिश के बाद राजधानी का जायजा लेते हुए जनता की आवाज बन कहा की पहली तेज बारिश के बाद नाले-नालियों की सफाई के दावे की पूरी पोल खुल गई है। शहर समेत आउटर इलाके में बुधवार शाम डेढ़ घंटे तक हुई वर्षा के कारण कई इलाके जलमग्न हो गए, वहीं घंटों बिजली गुल रहने से लोगों को परेशान होना पड़ा। वहीं जाम पड़ी नालियों की साफ-सफाई कर पानी निकासी की व्यवस्था करने की खानापूर्ति जैसे तैसे हर साल की तरह अब भी हो हो जायेगी।

बार बार जनता की लगातार गुहार के बाद भी कोई कार्य न होने के कारण हर साल की तरह इस बार भी हल्की वर्षा में शहर के कई इलाकों में जलभराव होना तय था, क्योंकि वर्षों से पूर्व शत प्रतिशत नाले-नालियों की सफाई नहीं हो पाई है। निगम के अधिकारी लगातार शहर की मुख्य सड़कों और कालोनियों में जलभराव रोकने के लिए बैठक करके योजना बनाते रहे, लेकिन धरातल पर कुछ नहीं किया जा सका। बुधवार को वर्षा के कारण जीई रोड जयस्तंभ, बांसटाल, कविता नगर खमतराई, हाउसिंग बोर्ड कालोनी कबीर नगर, जल विहार कालोनी, प्रोफेसर कालोनी, अवनीनगर, लाखेनगर, संतोषी नगर समेत आउटर के बोरियाखुर्द, डूंडा, सेजवहार आदि इलाकों में सड़क पर पानी भर गया।

बहुत से नालों में 100 से 200 मीटर तक पाटे बन गए हैं, जिनकी सफाई सालों से नहीं हुई है, न ही उसमें चेंबर है और न ही उसे किसी तरह से साफ करने की व्यवस्था है। शहर की साफ-सफाई का ठेका लेने वाली रामकी कंपनी के सफाई कर्मचारी भी दुकानों और घरों से प्रतिदिन कचरा सही तरह इकट्ठा नही करते और कचरा नालियों में जाता है। इस तरह स्वच्छता के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति और बिना कार्य पूर्ण किए भुगतान आदि जैसी समस्या लगातार फल फूल रही है।

शहर की मुख्य सड़को पर पानी ऐसे भरा मानो सड़क है ही नही। डीडीनगर इलाके में केंद्रीय विद्यालय क्रमांक दो के पास से सेचुरी कालोनी की ओर जाने वाली सड़क पर नाली का बदबूदार पानी जमा हो गया, इससे रहवासियों की रास्ता बदलकर आना-जाना करना पड़ा। हालांकि नगर निगम के अधिकारी पहले की तरह यह दावा कर रहे है कि 90 प्रतिशत बड़े नाले, नालियों की साफ-सफाई की जा चुकी है। जिन इलाकों में हल्की वर्षा से जलभराव होने का खतरा है, वहाँ पर वर्षा के बाद पानी अपने आप सड़क से बहकर वापस नाली, नालों में चले जाता है।

वर्षा से पहले शहर के शत-प्रतिशत नाले , नालियों की सफाई न होने के कारण जलभराव का मुद्दा लगातार उठाया जाता रहा है। बुधवार शाम को हुई हल्की वर्षों से यह नजारा भी देखने को मिला। पुरानी बस्ती इलाके, कुशालपुर, जलविहार कालोनी, विधवापारा ब्राह्मणपारा, कालीपारा, आमापारा, बूझतालाब, संतोषीनगर की चौरसिया कालोनी, सुभाषनगर, अशोक विहार वस्ती, जीई रोड जयस्तंभ चौक के आसपास, मरीन ड्राइवतेलीबांधा एनआइटी परिसर से लेकर नालंदा परिसर तक जाने वाली सड़क बदहाल नजर आई हैं। ठेकेदार सड़क से नहीं उठाते हैं कचरा और वह भी इन्ही नालों में जाकर अभियान की पोल खोल कर रख रहा है।

आम आदमी पार्टी ने नगर निगम के महापौर और आयुक्त को चेतावनी दी है कि यदि ऐसे हालात जल्द नही सुधरे तो आम आदमी पार्टी आंदोलन के लिए वाध्य होगी।वर्षा से जनजीवन भी ठप हो गया और वर्षा पूर्व जलभराव न होने के निगम के दावों की पोल भी खुल गई। वस्तियों से लेकर सड़कों में पानी बहने लगा। नालियों की गंदगी सड़कों पर वह रही थी।

वर्षा के पश्चात शहर में चारों ओर जाम की स्थिति बन गई थी लेकिन जनता की सुध कौन लेगा। नेता गण कही अपनी राजनीतिक चेहरा चमकाने में और कही हल चला कर भेट मुलाकात कार्यक्रम में व्यस्त है और समय मिलने पर ED दफ्तर का घेराव करने और कुर्सी बचाने के खेल में व्यस्त है।

उत्तम जायसवाल ने आगे बताया कि तेलघानी नाका के आगे से रामनगर जाने के लिए नए बने अंडरब्रिज की हालत तो देखने लायक थी। 7 सालो के लंबे इंतजार और साज-सज्जा के बाद हाल ही में इसका लोकार्पण किया गया. नए बने इस अंडरब्रिज में पहली ही बारिश में पानी टपकने लगा है. अंडरब्रिज के अंदर जहां-जहां लाइट लगी है वहां से पानी झरने की तरह बह रहा था और एक घंटे के भीतर अंडरब्रिज के अंदर पानी की धार बहने लगी. अंडरब्रिज के अंदर खड़े लोग भी भींग गए. इधर अंडरब्रिज के सामने भी काफी पानी का जमाव हो गया. पानी निकासी की व्यवस्था नहीं होने के कारण अंडरब्रिज के बाजू की गली में पानी बहने लगा।

ये अंडरब्रिज नहीं मानो 15 करोड़ की लागत से सात सालों में बना सरकारी भ्रष्टाचारी झरना हो। जनता के tax के पैसे का भ्रष्ट मूर्त रूप लिए यह अंडरब्रिज भाजपा और कांग्रेस की मिलीभगत का भ्रष्टचार का ताजा और जीता जागता उदाहरण है।आम आदमी पार्टी अब प्रदेश की जनता के साथ ऐसे बिल्कुल नही होने देगी और जनता की आवाज बन लगातार ऐसी पोल खोल अभियान चलाती रहेगी।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,433FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles