Monday, May 23, 2022

सॉफ्टवेयर में दिक्कत होने से एग्रीकल्चर साइंटिस्ट के एग्जाम में ‘की’ कोड नही खुला ,परीक्षा हुई रद्द

सॉफ्टवेयर में दिक्कत:एग्रीकल्चर साइंटिस्ट के एग्जाम में ‘की’ कोड नहीं खुला, देशभर से आए 330 छात्र नहीं दे पाए परीक्षा

ढाई घंटे तक परेशान होते रहे छात्र, परीक्षा रद्द

पूरे देश में एक साथ आयोजित होने वाली कृषि वैज्ञानिक चयन परीक्षा में बड़ी लापरवाही सामने आई है। देश के 312 केंद्रों में एक साथ आयोजित होने वाली इस परीक्षा में भिलाई में 3 केंद्र बनाए गए। उनमें से एक केंद्र शंकराचार्य कॉलेज में मंगलवार को परीक्षा हो ही नहीं पाई। खास बात यह है कि छत्तीसगढ़ में सिर्फ 3 केंद्र बनाए गए थे, तीनों भिलाई में थे। इसमें दो रूंगटा और एक शंकराचार्य कॉलेज में।

रूंगटा कॉलेज में परीक्षा सामान्य तरीके से हुई, लेकिन शंकराचार्य में बड़ी लापरवाही बरती गई। परीक्षा के लिए तय एजेंसी ने सॉफ्टवेयर के कोड को समझने वाले इंजीनियरों को भेजा ही नहीं। तकनीकी दिक्कतों के चलते ऑनलाइन एग्जाम के प्रश्न पत्र ओपन ही नहीं हो रहे थे। सुबह 9 बजे शुरू परीक्षा को लेकर साढ़े 10 बजे तक शुरू करने का प्रयास किया गया। इसके बाद छात्रों के हंगामे के बाद परीक्षा रद्द कर दी गई। परीक्षा में शामिल होने के लिए मथुरा, लखनऊ सहित अन्य बड़े शहरों से भी छात्र पहुंचे थे। परीक्षा दो पालियों में होनी थी।
नॉन टेक्निकल कर्मियों को भेजा, नहीं हुआ सुधार
एग्जाम के लिए अधिकृत एजेंसी ने सॉफ्टवेयर में आई खराबी के बाद तीन नॉन टेक्निकल कर्मी मोरध्वज साहू, सोनू शर्मा और राजवंश कुशवाहा को भेजा। वे भी सुधार नहीं कर पाए। इन युवकों ने रूंगटा कॉलेज में आए इंजीनियर को फोन कर श्री शंकराचार्य कॉलेज बुलाया तो उन्होंने आने से इनकार कर दिया। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) ने प्रशासनिक अधिकारी पद के लिए यह चयन परीक्षा ली है।
लैपटॉप और अन्य सामग्री भी टूटी हुई उपलब्ध कराई
परीक्षा के पहले श्री शंकराचार्य कॉलेज को परीक्षा एजेंसी से टूटे हुए सामान मिले। इसमें लैपटॉप टूटा हुआ था। साथ ही इसमें बार कोड रीडर, वेब कैमरा और मेटल डिटेक्टर शामिल है। लैपटॉप में आए कोड को डी-कोड कर परीक्षा केंद्रों में लगे कंप्यूटर्स को सर्वर से जोड़ा जाता। तीन दिन से लगातार मेहनत करने के बाद भी न तो कंप्यूटर सर्वर से जुड़ पाए और न ही कोड को डी-कोड कर पाए। बड़ी लापरवाही मानी जा रही है।
पहले दो बार टल चुकी है परीक्षा आयोजित परीक्षा
देशभर के उम्मीदवारों से परीक्षा के लिए जुलाई-अगस्त 2021 में आवेदन मंगाए गए थे। पहले परीक्षा सितंबर में होने वाली थी। यूपीएससी की परीक्षा के कारण इसकी तारीख आगे बढ़ाई गई। प्रशासनिक कारणों से 3 अक्टूबर 2021 को प्रस्तावित परीक्षा टाल दी गई। फिर इसकी नई तारीख 10 मई 2022 को रखी गई। इसकी जानकारी आज से 15 दिन पहले सभी उम्मीदवारों को दी गई थी। अब परीक्षा केंद्र में दिक्कत हुई।
परीक्षा एजेंसी से कोई प्रतिनिधि नहीं पहुंचा
हम शुक्रवार से परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। परीक्षा दो पालियों में होनी थी। दोनों पालियों के लिए 165-165 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। शनिवार से परीक्षा के लिए आईपी इंस्टाल करके रखा गया। सभी कंप्यूटरों को इंटरनल सर्वर से कनेक्ट किया गया। इसके बाद एजेंसी से आए लैपटॉप से की देखकर उसे अपलोड करना था।
डॉ. अचला जैन, केंद्राध्यक्ष श्रीशंकराचार्य कॉलेज जुनवानी भिलाई
छात्र हुए परेशान, किसी ने जवाब तक नहीं दिया
परीक्षा एजेंसी और एएसआरबी की ओर से न तो किसी का फोन उठाया जा रहा है और यदि फोन उठा भी रहे हैं। एएसआरबी की नीरू खन्ना स्पष्ट जानकारी नहीं दी। एजेंसी के कर्मचारी सौरभ खंडेलवाल ने जानकारी नहीं होने की बात कही। केंद्राध्यक्ष को साई-एडुकेयर डॉट काम के ऑपरेशनल एक्जीक्युटिव सौरभ खंडेलवाल के नाम से मेल भेजा। इसमें परीक्षा रद्द होने की जानकारी दी गई।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,321FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
spot_img
spot_img

Latest Articles