Sunday, August 14, 2022

प्लास्टिक बैन है पर उपयोग हो रहा, अब पकड़े गए तो सामान जब्त होगा, फाइन भी

प्लास्टिक कैरीबेग, डिस्पोजेबल सामान और पालीथिन के इस्तेमाल पर प्रतिबंधित एक जुलाई से लागू है है। इसके बावजूद शहर में इसका उपयोग करते लोगों को देखा जा रहा है। बाजारों, किराना दुकान और फूड सेंटरों में अभी भी सामान देने में इसका उपयोग हो रहा है।

फास्ट फूड सेंटरों में भी डिस्पोजेबल प्लेट, चम्मच और कटोरी इत्यादि का इस्तेमाल हो रहा है। हालांकि नगर निगम और पर्यावरण संरक्षण मंडला का अमला शहर में घूम-घूमकर लोगों को जागरूक कर रहा है, लेकिन असर नहीं दिख रहा।
यही वजह है कि नगर निगम सोमवार से शहर में बड़े पैमाने पर जांच अभियान शुरू करेगा। इस दौरान प्रतिबंधित सामान मिलने पर जब्त किया जाएगा। साथ ही दुकानदारों पर कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी। केंद्र के आदेश के बाद पूरे प्रदेश में प्लास्टिक का उपयोग पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया गया है।
राज्य शासन और नगरीय प्रशासन विभाग ने इस संबंध में सभी नगरीय निकायों को इसके उपयोग, भंडारण और विक्रय पर पूरी तरह रोक लगा दिया है। अब इसको अमल में लाने की जिम्मेदारी नगर निगम और पर्यावरण संरक्षण मंडल की है। इसलिए निगम और मंडल का अमला शहर के अलग-अलग इलाकों में लगातार जांच कर रहा है।

चैंबर की व्यापारी संगठनों से अपील, प्रतिबंध को सफल बनाएं : प्लास्टिक के खिलाफ प्रतिबंध को पूरी तरह सफल बनाने के अभियान में नगर निगम और पर्यावरण संरक्षण मंडल के साथ अब व्यापारी संगठन भी जुड़ गया है। संगठन ने कारोबारियों से इसमें पूरा सहयोग करने की अपील की है।
छत्तीसगढ़ चैंबर आफ कामर्स के अध्यक्ष अमर पारवानी ने कहा कि चैंबर से जुड़े सभी व्यापारिक संगठन प्लास्टिक और डिस्पोजेबल आइटम का उपयोग पूरी तरह बंद करेंगे। लंबे समय से ये उपयोग में हैं, इसलिए शुरू में थोड़ी परेशानी जरूर हो सकती है, लेकिन पर्यावरण की दृष्टि से यह कदम जरूरी है। संगठनों को इसका विकल्प तैयार करने के बारे में सोचना चाहिए। प्रशासन को भी इस दिशा में प्रयास करना होगा।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,433FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles