Sunday, August 14, 2022

प्रदेश की जनता के सामने खुली पोल, भ्रष्ट पूर्व भाजपा सरकार और भ्रष्ट भूपेश कांग्रेस शासन के चेहरे से उतरा नकाब

भाजपा और कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार कर लूटा और जनता को बदहाल रखा

शराब,कोयला और खनिज कारोबार से उगाही में लिप्त है भ्रष्ट भूपेश सरकार के महारथी.

जमीन, गर्भाशय, पनामा पेपर और नान जैसे घोटाले में लिप्त है भ्रष्ट प्रदेश भाजपा के पूर्वमंत्री और रमन सिंह.

सूर्यकांत तिवारी ने खोल दी भाजपा शासन तथा ED और IT रेड ने खोली कांग्रेस की पोल

रायपुर : आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने प्रदेश में साढ़े 3 साल पूरे कर रही कांग्रेस की भूपेश सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में कोयले की दलाली से हर माह 300 करोड़ कमाने की योजना और ब्लैकमनी की जप्ती, अवैधानिक लेनदेन की पोल खुलना तथा नए लूट के कारखाना शुरू होने से पहले ही आयकर विभाग ने छापा मार कर पानी फेर दिया है। इतना ही नहीं शराब से उगाही की तर्ज पर कोल कारोबार में एकाधिकार स्थापित करना चाहता था सूर्यकान्त तिवारी लेकिन फिलहाल सवालों के घेरे में है।

कोयला कारोबारी सूर्यकांत तिवारी ने सनसनीखेज बयान जारी कर कहा है कि छत्तीसगढ़ में महाराष्ट्र की तरह साजिश रचने की कवायद की गई. आईटी छापे की जद में आने के बाद सूर्यकांत तिवारी का यह पहला बयान है. इस बयान में उन्होंने कहा है कि आईटी अधिकारियों ने राज्य में सत्ता परिवर्तन कर मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया और कहा कि करीब 40 से 45 विधायकों से मेरे अच्छे संबंध हैं. उनकी एक सूची बना लें, बाकी विपक्ष के विधायकों के सहयोग से तख्तापलट हो जाएगा और सूर्यकांत को छत्तीसगढ़ का एकनाथ शिंदे बना देंगे. साथ ही सूर्यकांत के व्यवसाय से और सौम्या चौरसिया और सहयोगियों के यहां से IT रेड में नगद और गलत लेनदेन आदि मामले उजागर हो चुके है और ये भूपेश सरकार के भ्रष्ट आचरण को उजागर कर रहे है। भ्रष्टाचार अब भूपेश सरकार का पर्याय बन चुका है और उन्हें अब सरकार में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

कोमल हुपेंडी ने कहा कि दूसरी ओर कोयला कारोबारी सूर्यकांत तिवारी का सनसनीखेज बयान और छत्तीसगढ़ में तख्तापलट कर उन्हे एकनाथ शिंदे बनाने का दबाव बना रहे थे IT अधिकारी इसलिए सूर्यकांत ने पूर्व CM रमन पर बोला हमला, कहा- ”मैं जेल जाऊंगा, तो बगल का सेल आपका भी होगा”, इतना बयान काफी है सूर्यकांत के और भाजपा के रमन सिंह और पूर्व मंत्रियों के सांठगांठ की पोल खोलने के लिए साबित करते है।

कोयला कारोबारी सूर्यकांत तिवारी के आईटी छापे की जद में आने के बाद सूर्यकांत तिवारी का यह पहला बयान है. इस बयान में उन्होंने कहा है कि आईटी अधिकारियों ने राज्य में सत्ता परिवर्तन कर मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया और कहा कि करीब 40 से 45 विधायकों से सूर्यकांत के अच्छे संबंध हैं. उनकी एक सूची बना लें, बाकी विपक्ष के विधायकों के सहयोग से तख्तापलट हो जाएगा. सूर्यकांत को छत्तीसगढ़ का एकनाथ शिंदे बना देंगे और साथ ही उनके व्यवसाय से सौम्या चौरसिया का नाम जोड़कर बयान देने का भी दबाव बनाया गया, जिससे उन्होंने इंकार कर दिया.

दरअसल ये पोल खोल अभियान तब शुरू हुआ जब पूर्व सीएम रमन सिंह ने ट्वीट कर सूर्यकांत तिवारी की गिरफ्तारी की मांग की थी. इस मांग के बाद ही सूर्यकांत तिवारी ने. यह सनसनीखेज बयान दिया है. इस बयान में तिवारी ने रमन सिंह और आईटी अधिकारियों के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाए हैं.सूर्यकांत तिवारी ने रमन सिंह को दो टूक कहा कि आपका भी कार्यकाल कोई बेदाग नहीं रहा है। रमन जी अगर फिर भी आप मुझे अपराधी घोषित कर जेल में डलवाना चाहते हैं तो मुझे स्वीकार है, लेकिन जेल के जिस सेल में मैं रहूंगा उसके ठीक बाजू वाली सेल में आपको भी रहना होगा, क्योंकि आपका भी कार्यकाल कोई बेदाग नहीं रहा.

अभिषेक सिंह के नाम से पनामा पेपर में लिप्त होना बताते हुवे सूर्यकांत तिवारी ने डॉ. रमन पर हमला बोलते हुए कहा कि आप के कार्यकाल में मंत्रियों पर जमीन की अफरातफरी के आरोप लगे थे, उसके लिए आपको भी जेल जाना चाहिए. आपके पुत्र अभिषेक सिंह और अभिषेक सिंह के नाम से पनामा पेपर पर रंगे हुए थे, अलग-अलग देशों में बैंक खाते खोलकर अपनी काली कमाई छुपाने के आरोप लगे थे. आपकी जिम्मेदारी भी आप को स्वीकार करके जेल जाना चाहिए. सीएम मैडम को भी पैसा दिए जाते थे।

सूर्यकांत ने रमन पर कहा कि आप के कार्यकाल में हजारों करोड़ रुपए का नागरिक आपूर्ति घोटाला हुआ। आपकी जांच एजेंसी ने जो डायरी जब्त की थी, उसमें स्पष्ट रूप से यह लिखा था कि कोई सीएम मैडम को पैसा दिए जाते थे, इस पर भी आप को जेल चले जाना चाहिए। इतना ही नहीं उन्होंने रमन सिंह के ट्वीट को लेकर कई बड़े आरोप लगाए हैं. तिवारी ने कहा कि रमन के बेटे अभिषेक उर्फ अभिषाक के हाथ पनाना पेपर में घोटाले के रूप में हाथ रंगे हैं. कई मंत्रियों ने घोटाला कर प्रदेश को लूटा. मैं कारोबारी हूं कोई अपराधी नहीं, जिसे जेल में डालेंगे. सूर्यकांत ने कहा- मैं एक कारोबारी हूं अपराधी नहीं, आयकर विभाग की टीम जब सर्च के लिए हमारे घर आई तो आयकर के अफसरों ने मुझे पीटा और जो टैक्स आएगा वो हम भरेंगे।

तिवारी ने कहा कि मुझसे आयकर के अफसरों ने गलत बयान देने काे भी कहा, मगर मैंने गलत बयान नहीं दिए.
तिवारी ने आगे कहा कि रमन ने मुझे गिरफ्तार करने को कहा, मैं जेल जाने को तैयार हूं. मगर जेल में मैं जिस सेल में रहूंगा बगल की सेल में डॉ रमन को भी रहना होगा, उनके कार्यकाल में जमीन, गर्भाशय, पनामा पेपर और नान जैसे घोटाले हुए उन्हें नैतिक जिम्मेदारी के तहत जेल जाना चाहिएआदि भी साफ तौर पर भाजपा को भ्रष्ट रमन सिंह सरकार में भ्रष्टाचार साबित कर रहा है।

कोमल हुपेंडी ने अंत में कहा की भाजपा और कांग्रेस को पता ही नहीं चला की कब उन्होंने आरोप प्रत्यारोप के इस द्वंद में एक दूसरे के भ्रष्टाचार की पोल छत्तीसगढ़ वासियों के सामने खोल दी है और जनता के समक्ष उनके चेहरे पर से सफेद पोश होने का नकाब उतर गया है। प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस की लूट की दस्ताने सूर्यकांत तिवारी और सौम्या चौरसिया और अन्य प्रशासनिक और व्यापारिक हाथ ही है जो इस पूरे तंत्र को भ्रष्ट बना रहे है। भाजपा और कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार कर पिछले 22 सालो में लूटा है और जनता को लचर शिक्षा, स्वास्थ्य, किसानी,सड़क, बिजली और पानी, सुरक्षा आदि मूलभूत सुविधाओं में मात्र खानापूर्ति और दिखावा कर बदहाल रखा है।

आम आदमी पार्टी अब जनता के साथ ये अन्याय नहीं होने देगी और जनता से आवाह्न करती है कि आम आदमी पार्टी को सहयोग कर 2023 में भाजपा और कांग्रेस के भ्रष्ट शासन से मुक्ति पाए।
दिल्ली बदलिस, पंजाब बदलीस अब बदलबो छत्तीसगढ़।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,434FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles