Saturday, July 2, 2022

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में चीन से मुंह मोड़ रही विदेशी निवेश को दी मंजूरी

प्रदेश में खुलेंगे इलेक्ट्राॅनिक्स, ऑटोमोबाइल, स्टील, आयरन टेक्सटाइल और ऑप्टिकल फाइबर जैसे उद्योग

मुख्यमंत्री ने सहमति जताई, यूएसए, जापान, दक्षिण कोरिया, ताईवान और वियतनाम को आमंत्रित करेंगे

रायपुर. कोरोना संकट के बीच अर्थव्यवस्था काे मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने विदेशी कंपनियों के लिए दरवाजे खोलने की बात कही थी। छत्तीसगढ़ सरकार ने दो कदम आगे बढ़ाते हुए राज्य में विदेशी निवेश को मंजूरी दे दी है। चीन से मुंह मोड़ रही कंपनियों को सरकार ने राज्य में लाने की तैयारी कर ली है। अगर सब-कुछ सही रहा तो जल्द ही प्रदेश में इलेक्ट्राॅनिक्स, ऑटोमोबाइल, स्टील, आयरन टेक्सटाइल और ऑप्टिकल फाइबर जैसे उद्योग आकार ले लेंगे। 

उद्योग विभाग के प्रस्तुतीकरण पर CM की मुहर :

दरअसल, उद्योग विभाग की ओर से बुधवार को बताया गया कि कोरोना संक्रमण के चलते चीन से बाहर निकलने को इच्छुक कंपनियों को भारत खासकर छत्तीसगढ़ में उद्योग लगाने के लिए आमंत्रित किया जा सकता है।

इसमें यूएसए, जापान, दक्षिण कोरिया, ताइवान और वियतनाम की प्रमुख कंपनियां शामिल हैं। इन देशों की कंपनियां देश में पहले से कार्यरत हैं। इनको प्रदेश में सुविधाएं और रियायतें दी जा सकती हैं। 

यह सुविधाएं दी जा सकती हैं कंपनियों को :

सिंगल स्ट्रोक क्लीयरेंस, प्लग एंड प्ले सुविधा के साथ भूमि, कुशल श्रम शक्ति, प्रोजेक्ट की स्वीकृति का सरलीकरण, निवेश पैकेज, स्थानीय निवेशकों से साथ ज्वाईंट वेंचर, आवश्यक अधोसंरचना, बिजली, पानी के अधिभार में छूट दी जा सकता है।

विदेशी निवेश संबंधी निर्णय लेने के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में वरिष्ठ सचिवों की समिति गठित करने की सहमति मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी है। साथ ही इन कंपनियों से पत्राचार करने के निर्देश दिए हैं। 

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,373FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles