Tuesday, July 5, 2022

पंजाब के सीएम का आग्रह केंद्र सरकार ने ठुकराया, लॉकडाउन के दौरान शराब के ठेके खोलने का किया था आग्रह

पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने इस संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह को पत्र लिखा था और इसमें राज्‍य को शराब के ठेके खोलने के इजाजत देने का आग्रह किया था.

चंडीगढ़ : केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस की महामारी के कारण जारी लॉकडाउन के दौरान पंजाब को राज्‍य में शराब की बिक्री की इजाजत देने से इनकार कर दिया है. पंजाब के मुख्‍यमंत्री (Punjab CM) कैप्‍टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने इस संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) को पत्र लिखा था और इसमें राज्‍य को शराब के ठेके खोलने के इजाजत देने का आग्रह किया था. सीएम ने पंजाब के गिरते राजस्‍व का हवाला देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री से यह मांग की थी. उन्‍होंने अपने पत्र में लिखा था कि शराब के ठेके खुलने से राजस्व जुटाया जा सकेगा. इससे राज्य सरकार को रोजाना के खर्च पूरा करने में राहत मिलेगी. 

पंजाब के सीएम ने लॉकडाउन के दौरान शराब के ठेके खोलने की इजाजत देने का आग्रह केंद्र सरकार से किया था ( फाइल फोटो )

इससे पहले मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह, पीएम नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखकर कोविड-19 महामारी के चलते राज्‍य के लिए राहत पैकेज की मांग भी कर चुके हैं. गौरतलब है कि पंजा ब में कोरोना वायरस के अब तक 277 केस सामने आए हैं, इसमें से 65 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं. राज्‍य के 16 लोगों को इस महामारी के कारण जान गंवानी पड़ी है.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की महामारी के चलते ज्‍यादातर राज्‍यों की आर्थिक हालत चरमरा गई है. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री और अपने चचेरे भाई उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखकर राज्‍य में शराब की दुकानें खोलने का अनुरोध किया है. राज ठाकरे ने कहा है कि शराब की दुकानें खोलने से राज्य के कोषागार में राजस्व बढ़ेगा. कोरोना वायरस के मामले में बढ़ोत्‍तरी का सिलसिला लगातार जारी है. देश में कोराना वायरस के मरीजों की संख्‍या 21 हजार के पार पहुंच चुकी है.

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,377FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles