Saturday, July 2, 2022

भाजपा के प्रदर्शन में बिना मास्क लगाए दिखे बच्चे, मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा : ‘बेहद शर्मनाक, राजनीति के लिए……

मुंबई : महाराष्ट्र में कोरोना वायरस महामारी से निपटने के मुद्दे पर राज्य की शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की महाविकास अघाडी सरकार के खिलाफ शुक्रवार को बीजेपी ने राज्यभर में प्रदर्शन किया. राज्य सरकार के खिलाफ बीजेपी का यह प्रदर्शन इस महामारी से निपटने में विफल होने को लेकर था. बता दें कि महाराष्ट्र में सबसे अधिक कोरोना के मामले हैं, अकेल मु्ंबई में ही देश के 1/5 से ज्यादा केस हैं. विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने किया. राज्य भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल सहित कई भाजपा नेता भी महाराष्ट्र भाजपा मुख्यालय में काले मास्क पहनकर एकत्रित हुए और एक दूसरे से कुछ दूरी पर खड़े थे.

image tweeted by @AUThackeray

विरोध की तस्वीरें साझा करते हुए, विपक्ष के नेता देवेंद्र फडनवीस ने ट्वीट किया, “अधिकांश मामले, अधिकांश मौतें. स्वास्थ्य प्रणाली पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है. यह सरकार की विफलता है. हमने हमेशा राज्य सरकार के साथ सहयोग किया है. लेकिन लोगों को अब और कितना सहन करना पड़ेगा? मैंने राज्य भाजपा मुख्यालय में “महाराष्ट्र बचाओ” आंदोलन में भाग लिया.

लेकिन ट्विटर पर तस्वीरों में बच्चों को कम मास्क के साथ विरोध प्रदर्शन में भाग लेते देखा गया है. विरोध में बच्चों की
तस्वीरें उसी स्थान से नहीं हैं, जहां पूर्व मुख्यमंत्री ने विरोध किया था. राज्य भर में कई भाजपा नेताओं ने अपने अपने के क्षेत्रों में इस प्रकार विरोध प्रदर्शन किया, लेकिन लॉकडाउन के दौरान विरोध प्रदर्शन करना, विशेष रूप से राजनीतिक विरोध प्रदर्शन जिसमें बच्चों को शामिल किया गया था. इसकी तीखी प्रतिक्रिया आना लाजमी था. 

शिवसेना ने भाजपा पर लॉकडाउन के दौरान विरोध प्रदर्शन करने को लेकर हमला किया. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया, ‘बेहद शर्मनाक, राजनीति के लिए भाजपा के लोगों ने बच्चों कड़ी धूप में बाहर खड़ा कर दिया. वह भी बिना मास्क और बिना चेहरे को ढके हुए. हमें उन्हें बचाना है. कोरोना को भूल गए, पॉलिटिक्स प्यारा है.

आदित्य ठाकरे यहीं नहीं रुके, एक अन्य ट्वीट में उन्होंने बीजेपी को लेकर लिखा, ‘एक राजनीतिक पार्टी की राज्य इकाई ने एक नया निम्न और एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है- राजनीति में लिप्त होने और भय, घृणा और विभाजन फैलाने वाली दुनिया की एकमात्र पार्टी जब दुनिया एक दूसरे की मदद करने के लिए यह सब भूल गई है. यह पार्टी महामारी को भूल गई है.

आदित्य ठाकरे अपने पिता उद्धव ठाकरे के मंत्रिमंडल के सदस्य हैं और महाराष्ट्र में पर्यावरण, पर्यटन और प्रोटोकॉल मंत्री हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र में अकेले मुंबई में 25,000 से अधिक मामलों के साथ 41,642
कोरोनावायरस के मामले सामने आए हैं.

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,374FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles