Sunday, July 3, 2022

राष्ट्रीय पार्टी प्रवक्ता के पद से हटाए जाने के बाद संजय झा का ट्वीट- नेहरु ने अपने ही खिलाफ गुमनाम आलोचना लिखी थी..

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता संजय झा को पार्टी ने उनके पार्टी के प्रवक्ता के पद से हटा दिया था, उन्होंने एक लेख में पार्टी की कार्यशैली पर सवाल उठाए थे, जिसके बाद पार्टी की ओर से यह कदम उठाया गया था. पार्टी के इस कदम के बाद उन्होंने फिर अप्रत्यक्ष रूप से पार्टी पर निशाना साधा है. गुरुवार को उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि कभी पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु ने अपनी ही सरकार के खिलाफ आलोचना में एक गुमनाम लेख लिखा था. कांग्रेस में इस तरह का लोकतंत्र था, जो अब नहीं है.

झा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘एक बार पंडित नेहरु ने एक अखबार में अपने ही खिलाफ गुमनाम आलोचना लिखी थी और सरकार को तानाशाही की ओर बढ़ने से आगाह किया था. यही असली कांग्रेस है: लोकतांत्रिक, उदार, सहिष्णु, सबको साथ लेकर चलने वाली. हम इन मूल्यों को कहीं पीछे छोड़ चुके हैं. क्यों? मैं कांग्रेस का निर्भीक वैचारिका सिपाही बना हुआ हूं.’

बता दें कि कांग्रेस ने हाल ही में पार्टी की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करने वाले संजय झा को पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पद से हटा दिया है. पार्टी की ओर से जारी बयान के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने झा को तत्काल प्रभाव से हटाए जाने को मंजूरी दी. इसके साथ ही अभिषेक दत्त और साधना भारती को कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट नियुक्त किया गया है. दरअसल, झा ने पिछले दिनों एक लेख के माध्यम से पार्टी की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए थे. उन्होंने यह भी कहा था कि पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र का अभाव है. उधर, कांग्रेस ने कर्नाटक विधान परिषद चुनाव के लिए बीके हरि प्रसाद और नसीर अहमद को अपना उम्मीदवार बनाया है.

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,376FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles