Thursday, July 7, 2022

लॉकडाउन बढ़ने के बाद, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री का बयान

साभार – ndtv news

नई दिल्ली : कोरोनावायरस (Coronavirus) को फैलने से रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा की. प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि राज्यों एवं विशेषज्ञों से चर्चा और वैश्विक स्थिति को ध्यान में रखते हुए भारत में लॉकडाउन को अब 3 मई तक और बढ़ाने का फैसला किया गया है. इसी पर सहमति जताते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एनडीटीवी से बात की. उन्होंने कहा, ”प्रधानमंत्री जी ने आज 3 मई लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की है, हमें भी लगता है कि दिल्ली में इसे बढ़ाने की जरूरत है. प्रधानमंत्री जी के साथ जब मुख्यमंत्री जी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई थी तब मुख्यमंत्री जी ने जोर देकर कहा था कि इसे चालू रखना चाहिए और पूरे देश में इसकी जरूरत है.”

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया – फ़ाइल फ़ोटो

उन्होंने आगे कहा, ”हम ऐसी उम्मीद करते हैं कि अब जो मामले सामने आ गए हैं, अब नए केस ना होकर पुराने वाले के ही केस होंगे और फिर धीरे-धीरे लॉकडाउन की भी जरूरत नहीं होगी. दिल्ली में लॉकडाउन वैसे ही चलता रहेगा जैसे था.”

मनीष सिसोदिया ने कहा, ”दिल्ली में कोरोना के मामले 1510 हो गए हैं यह कितनी चिंता की बात है. दिल्ली के ऊपर दो तरह का बोझ रहा है. दिल्ली और मुंबई में इंटरनेशनल फ्लाइट्स बहुत लाई गई थी. जब यहां कोरोना का पूरा मामला शुरू हुआ था तब दुनिया भर में जहां भी हिंदुस्तानी थे उनको दिल्ली और मुंबई के एयरपोर्ट पर लाया गया था, दिल्ली और महाराष्ट्र सरकार ने उन लोगों को अपने पास रखा था; तो दिल्ली में ज्यादा मामले होने की एक वजह यह है. इंटरनेशनल फ्लाइट जो आई और इंटरनेशनल फ्लाइट के जो फ्लायर से उन लोगों को दिल्ली में ही रखा गया तो वह भी दिल्ली के काउंट में शामिल होते हैं. दूसरा मरकज और उसके फैलाव की वजह से जो मामले आए वह भी एक बड़ी संख्या है. इन दोनों को छोड़ दें यानी जो भारतीय दिल्ली के नहीं भी थे उनको दिल्ली एयरपोर्ट पर लाकर यहां पर रखा गया और मरकज वालों को छोड़ दें तो उसके बाद स्थिति बहुत ज्यादा चिंताजनक नहीं है.” 

क्या जरूरी चीजों की फैक्ट्री खोली जाएंगी, उनको खोलने के ऊपर विचार हो रहा है ? इस सवाल पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, ”जो भी जरूरी फैक्ट्रियां हैं वह पहले ही खोली जा चुकी थी. ट्रेड है, फैक्ट्री है या असेम्बलिंग का काम है, रिटेल है, स्टोर्स हैं, यह सब पहले ही खोले जा चुके हैं. गुड्स के बारे में पहले ही केंद्र सरकार कह चुकी थी कि इस अंचल हो या नॉन-इसेंसियल किसी को रोका नहीं जाएगा. अगर सारी स्थितियां सामान्य कर दी गई तो लॉकडाउन का कोई वैसे भी मतलब नहीं रह जाएगा.

PPE किट्स को लेकर उपमुख्यमंत्री ने कहा, ”PPE किट्स और टेस्टिंग किट्स भी दोनों जिस मात्रा में चाहिए. अभी दिल्ली के पास उतनी मात्रा में उपलब्ध है लेकिन फिर भी और चाहिए तो और भी मिल जाएंगी लेकिन मार्केट में थोड़ा क्राइसिस तो है इन चीजों का.”

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,382FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles