Saturday, March 2, 2024

सरायपाली में चल रही पुलिस की गुंडागर्दी , मुस्लिम होने की वजह से नाबालिक पर अपराध दर्ज , कर रहे पुलिस वाले प्रताड़ित

Reported by: Nahida Qureshi

सरायपाली में चल रही पुलिस की गुंडागर्दी , मुस्लिम होने की वजह से नाबालिक पर अपराध दर्ज, कर रहे पुलिस वाले प्रताड़ित

सरायपाली पुलिस पर लगा आरोप , आम जनता और खुद नाबालिक के पिता ने लगाए गंभीर आरोप, पत्र द्वारा पुलिस अधीक्षक से मांगी मदद , गौर तलब है की नाबालिक सैय्यद फुरकान ताज नगर के रहने वाला नाबालिक बच्चा है जो की नवमी कक्षा में पढ़ रहा है , मामले की बिना जांच पड़ताल किए पुलिस वाले एक पक्षीय कार्यवाही कर रहे है घटना यदि हुई हैं तो सारे मामले में जांच के बाद यदि नाबालिक बच्चे का आरोप सिद्ध हो तो उसे कोर्ट कारवाही से गुजरते हुए बाल कारावास भेजना होगा लेकिन यहां पुलिस मुस्लिम होने की वजह से कार्यवाही इस तरह कर रही है जैसे की पूरा घर और नाबालिक अपराधी है , उक्त मामले की जांच और मदद के लिए नाबालिक फुरकान के पिता ने तमाम उच्च अधिकारियों के नाम पत्र लिख कर अपनी फरियाद की है

मैं ताज नगर वार्ड नं. 7, सरायपाली निवासी हूँ। मेरा पुत्र सैय्यद फुरकान जो कि स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल सरायपाली में कक्षा 9वीं में अध्ययनरत विद्यार्थी है। उसके विरुद्ध सरायपाली टी.आई. द्वारा विविध धाराओं के अंतर्गत अपराध क्रमांक 20/2024 के रुप में नामजद अपराध दर्ज किया गया है । पुलिस वाले जब हमारे पास बच्चे को अरेस्ट करने आये तो हमारे द्वारा बार-बार बताया गया और फुरकान के सर्टिफिकेट एवं आधार कार्ड दिखाया गया फिर भी पुलिस वाले मानने को तैयार नहीं हुये कि हमारा बेटा 14 वर्ष का नाबालिग है। हमको धमकी देते हुये कहा कि तुम लोग झूठ कह रहे हैं हमें मालूम है कि तुम्हारा बेटा 18 वर्ष का है। सरायपाली टी.आई. शिवानंद तिवारी एवं सरायपाली में पदस्थ आरक्षक दुबे द्वारा धमकी देते हुये कहा गया कि तुम्हारे बेटे को गिरफ्तार करने के बाद उसको नंगा करके पूरे सरायपाली में घुमायेंगे और फिर उसके हाथ-पैर तोड़ देंगे। पुलिस वाले रात-बिरात कभी भी हमारे घर में बलात घुसे आ रहे हैं और धमकी देते हैं कि तुम्हारे बेटे के गिरफ्तार न होने पर तुम्हारे घर के सभी लोगों को महिलाओं समेत थाना में बैठाये बैठाये सड़ा देंगे। कभी रात को 12 बजे तो कभी सुबह 4 बजे पुलिस हमारे घर बलात घुस आती है और हम पर अवैधानिक रुप से दबाव बना रही है। घर की महिलाओं के गरिमा का भी ख्याल नहीं रखा जा रहा है। यह कि हमारे नाबालिग बच्चे को गिरफ्तार कर दुर्वांत अपराधियों के साथ रखने के लिये उक्त कुत्सिक प्रयास किया गया है। सिविल यूनिफार्म में आरक्षक दुबे भी हमारे घर घुस आया था और डरा-धमका रहा था । सरायपाली थाना में पदस्थ विविध पुलिस वालों द्वारा विभिन्न माध्यमों से हमको धमकी दिया जा रहा है।

o

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,909FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles