Monday, March 4, 2024

SI भर्ती परीक्षा मामले को लेकर सीएम हाउस पहुंचे, नतीजे घोषित कर जॉइनिंग देने की मांग

छत्तीसगढ़ में सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थी मंगलवार को मुख्यमंत्री निवास और डिप्टी CM टीएस सिंहदेव के बंगले पहुंचे। अभ्यर्थियों ने आचार संहिता से लगने पहले परीक्षा रिजल्ट जारी कर जॉइनिंग देने की मांग की है।

उनका कहना है कि सब इंस्पेक्टर, सूबेदार और प्लाटून कमांडर भर्ती प्रक्रिया में शारीरिक परीक्षा से लेकर इंटरव्यू तक 8 सितंबर को पूरी हो चुकी है। अभ्यर्थियों ने कहा कि प्लीज कका रिजल्ट जारी करवा दो।

SI भर्ती परीक्षा अभ्यर्थी कोमिन साहू ने कहा कि सभी प्रक्रिया पूरी हो गई है, लेकिन अंतिम चयन सूची अभी तक जारी नहीं की गई है। मैं मुख्यमंत्री से निवेदन करती हूं कि प्लीज कका अपने भतीजा भतीजियों के लिए रिजल्ट जारी करवा दो।

इससे पहले भी हम विधायक और मंत्रियों से मुलाकात कर चुके हैं, लेकिन हमें किसी ने कोई भी आश्वासन नहीं दिया है। रिजल्ट आखिर क्यों रोका गया है। हम सभी बेहद परेशान हैं। घरवाले भी कहते हैं कि रिजल्ट क्यों नहीं आ रहा है।

रमन सरकार के दौरान अगस्त 2018 में सब इंस्पेक्टर, सूबेदार और प्लाटून कमांडर के 655 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया था। आचार संहिता और प्रदेश में सरकार बदलने के बाद भर्ती प्रक्रिया रोक दी गई थी। अभ्यर्थियों के आंदोलन के बाद कांग्रेस सरकार ने 2021 में पदों में बढ़ोतरी की थी और 975 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया था।

भर्ती के लिए फिजिकल जुलाई 2022 में हुआ। मुख्य परीक्षा 26 से 29 मई 2023 को हुई। शारीरिक परीक्षा 18 से 30 जुलाई 2023 तक हुई। साक्षात्कार परीक्षा 17 अगस्त से 8 सितंबर 2023 को हुई थी। अभ्यर्थी अब अंतिम चयन सूची की मांग कर रहे हैं।

याचिकाकर्ताओं के मुताबिक पुलिस भर्ती प्रक्रिया में छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल की ओर से भारी अनियमितता बरती जा रही है। प्लाटून कमांडर के पद पर महिलाओं की भर्ती की जा रही है। लिखित परीक्षा के अंक भी जारी नहीं किए जा रहे हैं।

परीक्षा में हो रही देरी को लेकर अभ्यर्थियों को आंदोलन करना पड़ा था। 29 जनवरी 2023 को अंबिकापुर, दुर्ग, जगदलपुर, रायपुर और बिलासपुर में परीक्षा आयोजित की गई थी। लिखित परीक्षा के परिणाम जारी होने के बाद हाईकोर्ट में 105 याचिकाएं लगाई गई हैं।

याचिका के अनुसार कुल पदों में से 247 पद प्लाटून कमांडर के लिए आरक्षित किया गया है। विज्ञापन में स्पष्ट किया गया था कि महिला उम्मीदवार प्लाटून कमांडर के पद पर भर्ती के लिए पात्र नहीं होंगी। इसके बाद भी चार हजार से अधिक महिलाओं को पात्र मान लिया गया है।

इससे पात्र पुरुष उम्मीदवार चयन प्रक्रिया से बाधित हो गए हैं। इसके साथ ही एक्स सर्विस मैन के लिए 1900 पद स्वीकृत हैं, जबकि कुल पात्र उम्मीदवारों की संख्या ही 450 के करीब हैं।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,909FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles