Saturday, March 2, 2024

9 घंटे तक ईडी की टीम ने महापौर को बैठाए रखा, बाहर बज रहा था गाना… घर कब आओगे

रायपुर के महापौर एजाज ढेबर को शनिवार को ED ने पूछताछ के बुलाया था। सुबह 11 बजे वो पहुंच गए थे। करीब 9 घंटे अफसरों ने उन्हें ED दफ्तर में बैठाए रखा। बाहर समर्थकों ने पंडाल लगाकर धरना दे दिया। ED दफ्तर के सामने पचपेड़ी नाका को जाने वाली सड़क के एक हिस्से को जाम कर दिया गया।

शनिवार को ED ने महापौर के भाई और कारोबारी अनवर ढेबर को गिरफ्तार किया अदालत ने 4 दिन की रिमांड दे दी। जब देर रात महापौर बाहर आए तो उन्होंने बड़ा बयान दिया।

महापौर एजाज ढेबर ने कहा हमने कुछ गलत नहीं किया, इसलिए हम डरेंगे नहीं। यहां कांग्रेस मजबूत है इसलिए ये सब हो रहा है। ED क्या अभी तो और एजेंसियां आएंगी CBI हो या कोई और। हम मेंटली प्रिपेयर हैं। हमारे खिलाफ रॉ को भी बुलवा लें, हम नहीं डरेंगे। जो गलत किया होगा वो डरेगा। हम इन सबका मजबूती से सामना करेंगे, कांग्रेस का कार्यकर्ता नहीं डरेगा।

क्या हुआ अंदर
सुबह से रात तक महापौर एजाज ढेबर को ED वालों ने बैठाए रखा। शनिवार से पहले मंगलवार को भी लगभग 12 घंटे इसी तरह महापौर एजाज ढेबर को ED दफ्तर में रखा गया। आखिर अंदर होता क्या है पूछे जाने पर महापौर ने कहा कि वहां अधिकारी बहुत समय लेते हैं, हमें बैठने को कह दिया जाता है। किस संबंध में पूछताछ करेंगे ये हमें भी नहीं पता, हमारा अपराध क्या है।

एजाज ढेबर ने कहा कि वो जिस तरह की जांच करना चाहते हैं मैं सहयोग करने को तैयार हूं। मगर 8-9 घंटे बैठाकर वक्त बर्बाद होता है। ऐसा ही हुआ अंदर नाम बताओ, पिता का नाम बताओ इस तरह की बातें करते हैं। मैं शहर का महापौर हूं, नगर निगम इमरजेंसी सेवा के तहत आती है, इतनी देर मुझे बेवजह बैठाए रखा जाएगा तो शहर के काम कैसे होंगे। फिर से मुझे आने को कहा गया है।

बाहर बजा गाना घर कब आओगे
एजाज ढेबर को जैसे ही पूछताछ के लिए बुलाया गया, सुबह से ही उनके समर्थकों ने धरना दे दिया। नारेबाजी करने लगे। सड़क पर पंडाल लगाकर बैठ गए थे। यहां DJ मंगवाया गया, इसका मुंह ED कार्यालय की ओर किया गया। जब कई घंटों से महापौर ढेबर अंदर थे और कारोबारी अनवर को भी यहां लाया गया तो DJ पर गाना बज रहा था के घर कब आओगे…समर्थक महापौर के लिए नारे लगा रहे थे।

जब ED की गाड़ी रोकी प्रदर्शनकारियों ने
कोर्ट में पेशी के बाद कारोबारी अनवर ढेबर को लेकर ED की टीम पचपेड़ी नाका स्थित दफ्तर पहुंची। यहां पहले से ही महापौर के समर्थक मौजूद थे। सभी ने ED की गाड़ी को सड़क पर रोककर नारेबाजी शुरू कर दी। बड़ी तादाद में पुलिस मौके पर माैजूद थी, मगर प्रदर्शनकारियों को ऐसा करने से पुलिस रोक न सकी। समर्थकों को बड़ी मुश्किल से हटाकर ED अनवर को दफ्तर लेकर आई, अब यहीं 4 दिन अनवर से पूछताछ के बाद फिर से उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। अनवर पर शराब कारोबार में अवैध वसूली और मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है।

ये भी पढ़े

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,909FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles