Saturday, March 2, 2024

5% डी ए की खैरात नामंजूर ,संयुक्त मोर्चा छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी

संयुक्त मोर्चा ने 6 जुलाई को राज्य की कैबिनेट द्वारा 5% मंहगाई भत्ते की घोषणा को खैरात बताते हुए अस्वीकार कर दिया है,घटक संघों,कर्मचारी अधिकारी महासंघ के संयोजक अनिल शुक्ला,,कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के संयोजक कमल वर्मा,मंत्रालयीन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष महेंद्र सिंह राजपूत प्रांतीय प्रवक्ता संजय तिवारी , चंद्रशेखर तिवारी ने बयान जारी कर बताया कि प्रदेश के पौने पांच लाख कर्मचारियों सवा लाख पेंसनरो को अब 5% की खैरात नही बल्कि 9% मंहगाई भत्ता देय तिथि से दिया जाना चाहिए । संयुक्त मोर्चा की आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया है कि कैबिनेट की इस बैठक से कर्मचारियों को बहुत आशा थी किंतु मंत्रिमंडल के निर्णय से कर्मचारियों को बहुत निराशा ही हुई है मंत्रिमंडल ने गृह भाड़ा भत्ता के पुनरीक्षित किए जाने ,संविदा कर्मियों के नियमित करण,सहित मोर्चा के पांच सूत्रीय मांगो पर कोई फैसला नहीं लिया बल्कि मात्र 5% डी ए की घोषणा आग में घी डालने वाला है ,संयुक्त मोर्चा ने 7 जुलाई को प्रदेश व्यापी आंदोलन को और अधिक उग्र बनाते हुए 1 अगस्त से अनिश्चित कालीन हड़ताल को व्यापक बनाने सभी प्रांताध्यक्ष प्रांतीय पदाधिकारियों के जिले वार दौरे का कार्यक्रम भी तय कर दिया है , तथा पूरे प्रदेश में 7 जुलाई के आंदोलन को आक्रोश दिवस के रूप मनाए जाने का फैसला किया है ,संजय तिवारी प्रवक्ता चंद्रशेखर तिवारी प्रवक्ता

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,909FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles