Saturday, March 2, 2024

ग्राम पंचायत अछोला को मिली करोड़ों के विकास कार्यों की सौगातसंसदीय सचिव ने किया विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

ग्राम पंचायत अछोला को मिली करोड़ों के विकास कार्यों की सौगात
संसदीय सचिव ने किया विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन


महासमुंद। ग्राम पंचायत अछोला में करोड़ों रूपए के विकास कार्यों की सौगात मिली है। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों की मौजूदगी विकास कार्यों का भूमिपूजन-लोकार्पण किया।


ग्राम पंचायत अछोला में आज शुक्रवार को पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण, सामुदायिक भवन, टीन शेड निर्माण, रंगमंच निर्माण कार्य का भूमिपूजन-लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर थे। अध्यक्षता जनपद अध्यक्ष यतेंद्र साहू ने की। विशेष अतिथि के रूप में कृषि उपज मंडी अध्यक्ष हीरा बंजारे, बीज अनुसंधान समिति के संचालक दाउलाल चंद्राकर, जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री संजय शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष ढेलू निषाद, जनपद सदस्य आरीन भागीरथी चंद्राकर, सरपंच श्रीमती मानकी साहू, सरपंच प्रतिनिधि कमलनारायण साहू, मानिक साहू, राजेश चंद्राकर, पोखन साहू, मौजूद थे। पूजा-अर्चना पश्चात मुख्य अतिथि संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने विकास कार्यों के लिए भूमिपूजन-लोकार्पण किया। अपने संबोधन में संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने कहा कि गांवों में मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य, शिक्षा, सिंचाई, पानी, सड़क के साथ ही प्राथमिकता के साथ गांवों में अन्य मूलभूत सुविधाओं के लिए शुरू से प्रयास किया जा रहा है। इसी तारतम्य में अछोला में जल जीवन मिशन के तहत पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण की सौगात मिलने जा रही है। जल्द ही पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण होने से ग्रामीणों को साफ पानी मिलने लगेगा। उन्होंने बताया कि ग्रामीण अंचलों में अक्सर पेयजल की समस्याओं को लेकर ध्यानाकर्षित कराया जाता रहा है। जिसे ध्यान में रखते हुए प्राथमिकता के साथ जल जीवन मिशन के तहत पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण का कार्य कराया जा रहा है। इससे पेयजल के लिए ग्रामीणों को भटकना नहीं पड़ेगा। खासकर महिलाओं को काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में छत्तीसगढ़िया सरकार बनी है, जिसकी वजह से किसानों, आदिवासियों, मजदूरों एवं समाज के गरीब तबके के लोगों के हितों को ध्यान में रखकर सरकार निर्णय ले रही है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही सबसे पहले किसानों के ऋण की माफी और 25 सौ रूपए में धान खरीदी का निर्णय लिया गया। कर्जमाफी और समर्थन मूल्य पर धान खरीदी से छत्तीसगढ़ के किसानों में खुशहाली आई है। उन्होंने कहा कि जिन परिवारों के पास कृषि भूमि नहीं है और वे ग्रामीण क्षेत्रों में रहने के लिए कृषि श्रम या मनरेगा के काम पर निर्भर हैं, उन्हें राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत 7,000 रुपये सालाना दिए जा रहे हैं। उन्होंने शासन की योजनाओं का लाभ उठाने का आव्हान किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से लहरी सिंह ठाकुर, दिलीप धृतलहरे, कौशिक साहू, राजेंद्र साहू, ओप्रकाश साहू, संतोष साहू, हेमिन यादव, सकुन चौहान, संतोषी यादव, फुलेश्वरी धीवर, जामबाई साहू, शंकर साहू, त्रिलोक रैला, गोवर्धन धीवर, शिव कुमार भारद्धाज, संतन धृतलहरे, पुनाराम धृतलहरे, सूरज कुमार, गणेश सोनबेर, डोमार साहू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
3,909FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles